Monday , October 23 2017
Breaking News
Home / Breaking News / शहीद जवानों के शव ले जाने पर सेना की किरकरी, सोशल मीडिया पर लोगों का फूटा गुस्सा

शहीद जवानों के शव ले जाने पर सेना की किरकरी, सोशल मीडिया पर लोगों का फूटा गुस्सा

हाल ही में अरुणाचल प्रदेश में वायुसेना के मिग 17 हेलीकॉप्टर क्रैश में मारे गए सात जवानों के शवों पर सेना की किरकरी हो रही है। दरअसल जवानों के शवों को गत्ते का डिब्बों में ले जाया जा रहा था। जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है। जिसके बाद लोगों में काफी गुस्सा है।

ये पहली बार नहीं जब शहीद के शव को इतनी बर्बरता के साथ लाया जाता है। आप ये जानकार हैरान हो जाएंगे कि पिछले 18 साल से भी ज़्यादा हो गए हैं लेकिन शहीद जवानों के शवों को ले जाने के लिए अभी तक ना तो ताबूत मिले और ना ही बैग पैक। इस मामले के बड़ने पर सेना ने अपनी गलती मानी हुए कहा कि भविष्य में शवों को उचित तरीके से पहुंचाने की पूरी कोशिश की जाएगी। आगे कहा कि स्थानीय संसाधनों से शवों को लपेटना भूल थी।

जानकारी के मुताबिक बता गत्ते में शवों को लाने का यह मामला 2013 में बंद हो गया था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भ्रष्टाचार के मामले में एक गोदाम में 1999 से 900 बॉडी गत्ते और 150 ताबूत बंद पड़े हैं जब कारगिल युद्ध हुआ उस वक्त की एनडीए सरकार ने 3000 बॉडी बैग और 500 ताबूत की खरीद का आदेश दिया था। रिश्वत के आरोप लगने के बाद सौदे को रद्द कर दिया गया,। बहराल जवानों के शव पर हुई हरकत के बाद आखिर सेना क्या नया कदम उठाएगी ये वक्त बताएगा

ये भी पढ़े

बॉडी बिल्डिंग चैम्पियनशिप में विश्व विजेता बने विपनेश

Share this on WhatsAppगाजियाबाद(शिवम गौड़) बॉडी बिल्डिंग के मिस्टर गाजियाबाद रह चुके विपनेश चौधरी ने फिर …

error: Content is protected !!